पोप फ्रांसिस बोले, नन और पादरी ऑनलाइन पोर्न देखते हैं।

Pope fransis Hindi News: ईसाई के धर्म गुरू पोप फ्रांसिस ने भी माना है कि कई नन और पादरी ऑनलाइन पोर्न देखते हैं। ऑनलाइन पोर्नोग्राफी के खिलाफ़ उन्होंने संबंधित नन और पादरियों को चेतावनी भी जारी की है।

n43580813216668530641537e6512ea8bb0a4cf7fd613612e35064f6d3dbdee36cd8cf570e6270b80353ba45436391276862830577
रोम इटली वेटिकन सिटी पोप फ्रांसिस

पोंटिफ सोमवार को रोम में एक सम्मेलन में बोल रहे थे, जहां वह इस सवाल का जवाब दे रहे थे कि आज के आम आदमी और आम महिल कैसे तकनीक-प्रेमी हो चुकी है और वो सोशल मीडिया की दुनिया में पूरी तरह से डूबे हुए हैं।

वेटिकन द्वारा बुधवार को जारी सूचना के अनुसार, उन्होंने कहा, “तकनीक एक बुराई है जो असंख्य सारे लोगों के पास है। इतने सारे आम आदमी, इतनी सारी आम महिलाएं, और जिसमें पादरी और नन भी है। शैतान तकनीक के माध्यम से प्रवेश करता है।”

पोप फ्रांसिस ने पादरियों से कहा कि वे हमारी पहचान को भूले बिना और अभिमानी होने के बिना, ईसाई होने के बारे में खुशी साझा करने के लिए डिजिटल उपकरणों का उपयोग करें। उन्होंने आपराधिक अश्लीलता के बारे में बताया कि हम केवल बाल शोषण की आपराधिक गतिविधि के बारे में बात नहीं कर रहे, बल्कि तकनीक के माध्यम से भी अश्लीलता फैलाई जा रही है।

गिरजाघर के पादरी और बहुत सारी नन भी अश्लील वीडियो और कंटेंट मोबाइल से साझा करते रहते हैं। इसके अलावा ये लोग इस अश्लील सामग्री के आदी हो चुके हैं।

पोप फ्रांसिस ने आगे कहा कि साथी कैथोलिकों से अपने फोन से अश्लील सामग्री हटाने और “हाथ में प्रलोभन” का विरोध करने का आग्रह किया। पोर्नोग्राफी इंसान की आत्मा को कमजोर करती है। जिससे शैतान आसानी से इंसानी शरीर में प्रवेश करता है।